Pradhan Mantri Awas Yojana Guidelines In Hindi Gramin/Urban 2020-2021

Pradhan Mantri Awas Yojana Guidelines In Hindi Gramin/Urban 2020-2021

प्रधानमंत्री आवास योजना । pmay ke that 2.67 lakh ghar swikrit। 2.67 lakh subsidy rules in hindi। पी.एम आवास योजना के तहत 2.67 लाख घरो को स्वीकृति।

Introduction

हमारे सभी बेघर व झुग्गी-झोपडियो में, रहने वाले लाखो बेघर परिवारो के लिए भारत सरकार ने, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत करीब 2.67 लाख घरो को स्वीकृति दे दी हैं जिसका सीधा का अर्थ है कि, हमारे 2.67 लाख बेघर परिवारो का आवासीय विकास होने जा रहा हैं औऱ इसी पर आधारीत हैं हमारा आज का लेख क्योकिं, हम, अपने इस लेख में, आपको pmay ke that 2.67 lakh ghar की swikrit की पूरी जानकारी देंगे ताकि आप व हमारे सभी आवेदक-लाभार्थी इस योजना का पूरा लाभ प्राप्त करके अपना व अपनो के उज्जवल भविष्य के लिए अपना व पक्का घर प्राप्त कर सकें औऱ यहीं इस लेख को लिखने का हमारा मौलिक लक्ष्य भी हैं।

Awas yojana

पी.एम आवास योजना के तहत 2.67 लाख घरो को स्वीकृति

योजना का नाम

pmay ke that 2.67 lakh ghar swikrit।

योजना के पहलकर्ता भारत सरकार।
योजना का मौलिक उद्धेश्य योजना के तहत स्वीकृत घरो के अनुसार 2.67 लाख बेघर परिवारो का आवासीय विकास  करना।
योजना के लाभार्थी भारत के सभी आम नागरिक।
योजना के केद्रीय बिंदु बेघरो को घर देकर उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण करना व उनका सतत विकास करना।
योजना में, आवेदन की स्थिति योजना के तहत ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनो माध्यमो से आवेदन जारी हैं।
योजना के तहत स्वीकृत घरो की कुल संख्या योजना के तहत कुल 2.67 लाख घरो को स्वीकृति मिल चुकी हैं।

Read: [List] Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin List Maharashtra 2020

प्रधानमंत्री आवास योजना – क्या हैं?

हम, अपने सभी भारतवासियो व पाठको को बताना चाहते हैं कि, प्रधानमंत्री आवास योजना जिसे हम, पी.एम आवास योजना के नाम से भी जानते हैं एक बेहद कल्याणकारी योजना हैं जिसके तहत भारत के सभी बेघर परिवारो को उनके सपनो का  घर देकर उनका सामाजिक व आर्थिक विकास किया जाता हैं और साथ ही साथ उन्हें समाज की मुख्य़धारा से जोडकर उनका विकास किया जाता हैं। योजना के तहत ये लक्ष्य तय किया गया है कि, साल 2022 तक सभी बेघर परिवारो को उनका अपना सपनो का घर प्रदान किया जायेगा ताकि भारत में, कोई भी बेघर ना रहे और सभी के सिरो पर अपनी पक्की छत हो जहां पर वे अपना व अपनो के उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें।

प्रधानमंत्री आवास योजना – 36वीं बैठक की सौगात

जैसा कि, हम सभी जानते है कि, प्रधानमंत्री आवास योजना का क्रियान्वयन जोरो पर हैं और इसलिए आये दिन बैठके हो रही हैं लेकिन 24 जुलाई, 2020 हुई 36वीं बैठक कई मायनो में, महत्वपूर्ण बन चुकी हैं क्योंकि इसी बैठक में, योजना के तहत करीब 2.67 लाख घरो को स्वीकृति प्रदान कर दी गई हैं जिसका सीधा का अर्थ हैं कि, करीब 2.67 लाख बेघर परिवारो को उनके अपने सपनो का घर प्रदान किया जायेगा और उन्हे अपना घर देकर उनका  समाजिक व आर्थिक विकास किया जायेगा।

Read: प्रधानमंत्री आवास योजना में सब्सिडी पाने के लिए कैसे करे आवेदन

प्रधानमंत्री आवास योजना – 10 राज्यो में, होगा नये घरो का निर्माण

इस योजना के साथ राजीव आवास योजना को जोड दिया गया हैं जिसके तहत अब प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के तहत 53 से लेकर 74 लाख बेघर परिवारो को इस योजना का सीधा लाभ मिलेगा। इस योजना के तहत कुल 10 राज्यो में, नये घरो का निर्माण किया जायेगा जिनकी पूरी सूची इस प्रकार से हैं- मध्य प्रदेश, गुजरात, महाऱाष्ट्र, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार, राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ व उत्तराखंड आदि राज्यो मे इस योजना के तहत नये घरो का निर्माण किया जायेगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना – 36वीं बैठके के अनुसार राज्यो में बनने वाले घरो की संख्या

इस योजना के तहत 36वीं बैठक के अनुसार राज्यो में, बनने वाले घरो की संख्या को आधिकारीक तौर पर जारी कर दिया गया हैं जो कि, इस प्रकार से हैं –

राज्य (State)

पीएमए शहरी (यू) के तहत घरों की संख्या

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)  59, 421
गुजरात (Gujarat)  55,296
महाराष्ट्र (Maharashtra)  52, 935
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) 36,370
पश्चिम बंगाल (West-Bengal) 26,604
बिहार (Bihar) 15,924
राजस्थान (Rajasthan) 8,600
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) 7,961
पंजाब (Punjab) 2,442
उत्तराखंड (Uttarakhand) 1,993

 

उपरोक्त अलग-अ लग राज्यो में, इस योजना के तहत नये घरो का निर्माण होगा जिससे सभी बेघर परिवारो का आवासीय विकास व उज्जवल भविष्य का निर्माण होगा।

Read: प्रधानमंत्री आवास योजना की सम्पूर्ण जानकारी – किसे और कैसे मिलेगा पीएम आवास योजना का लाभ?

योजना से संबंधित आपके सवाल और हमारे जबाव

इस कल्याणकारी योजना के संबंध में, हमें, आपकी तरफ से कई सवाल मिले हैं जिनका जबाव हमने इस प्रकार से दिया हैं-

सवाल – इस योजना का लाभ किया हैं?

जबाव – इस योजना का मुख्य लाभ यह है कि, इस योजना के तहत भारत के सभी बेघऱ परिवारो को उनका घर प्रदान करके उनका सामाजिक व आर्थिक विकास किया जायेगा।

सवाल – इस योजना का साल 2022 का लक्ष्य क्या हैं?

जबाव – इस योजना का साल 2022 का मुख्य लक्ष्य हैं सभी साल 2022 तक सभी बेघर परिवारो को उनका अपना पक्का घर प्रदान करना।

सवाल – योजना के तहत 2.67 लाख घरो को स्वीकृति किस बैठक में, मिली?

जबाव – योजना के तहत कुल 2.67 लाख घरो को स्वीकृति 36वी बैठक में मिली।

 

 

 

 

Leave a Comment

Contact Us || Privacy Policy || About Us || Sitemap