[पंजीकरण] राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना – ऑनलाइन आवेदन

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना

हमारा आज का लेख पूरी तरह से हमारे राजस्थान के किसान भाईयों को समर्पित हैं क्योंकि हम अपने इस लेख में आपको राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना  (Rajasthan Krishi Upaj Rahan Yojana) की पूरी जानकारी विस्तार से देंगे ताकि आप इस योजना का बडी मात्रा में लाभ लेकर सरकार के इस कृषि के साथ किसान उत्थान के प्रयास को सफल बना सकें।

हम अपने राजस्थान के किसान भाईयों को इस योजना का उद्धेश्य, लाभ, योजना के लिए जरुरी पात्रता व दस्तावेजो की सूची और इसके साथ-साथ आवेदन करन की पूरी प्रक्रिया को आपके सामने सरल तरीके से रखेंगे ताकि आप सरलतापूर्वक इस योजना में अपना आवेदन करके इस योजना का लाभ ले सकें और अपनी कृषि पद्धति को बेहतर बना सकें।

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना

Rajasthan Krishi Upaj Rahan Yojana

यह एक सत्य औऱ तथ्य दोनो हैं कि, राजस्थान सरकार सदैव अपने किसानो के कल्याण के लिए कल्याणकारी योजनायें लेकर आती रहती हैं ताकि राज्य के किसानो के विकास के साथ-साथ कृषि की पद्धति और उत्पादन में भी वृद्धि हो सकें।

इस योजना के तहत हमारे किसान भाईयो को कर्ज प्रदान किया जाता हैं जिसकी सहायता से वे अपनी कृषि को बेहतर बनाते हैं, उत्पादन बढाते हैं और अधिक उत्पादन करके अधिक आमदनी अर्जित करते हैं। इस प्रकार इस योजना का मूल उद्धेश्य हैं किसान और कृषि दोनो का विकास करना।

Read: फ्री सिलाई मशीन योजना 2020

योजना के तहत उद्धेश्य की रुपरेखा

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के तहत उद्धेश्य की जो रुपरेखा हैं वो कुछ इस प्रकार हैं कि, इस योजना के तहत हमारे राजस्थान के किसान भाईयो के विकास के साथ-साथ उनकी कृषि को भी विकसित करने का लक्ष्य रखा गया हैं।

योजना के तहत छोटे और सीमान्त किसान भाईयो को कर्ज दिया जायेगा वो भी सस्ती दरो पर ताकि उन पर कर्ज का बोझ भी ना पडे और वे सरलतापूर्वक अपनी कृषि उपज को बढा सकें और उत्पादन में वृद्धि करके अधिक आमदनी प्राप्त कर अपना और अपने देश का विकास कर सकें औऱ कोरोना वायरस के चलते लगभग टूट चूकी अर्थव्यस्था को पटरी पर ला सकें।

Read: स्वनिधि योजना 2020 रजिस्ट्रेशन

योजना का लाभात्मक पहलू

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के तहत हमारे किसान भाईयो को जिन लाभो की प्राप्ति होगी उसके सभी लाभात्मक पहलू इस प्रकार हैं-

  1. योजना से प्राप्त होने वाला पहला सबसे बड़ा लाभ यही हैं कि, इस योजना का लाभ छोटे और सीमान्त किसानो को मिलेगा,
  2. इस योजना के तहत छोटे और सीमान्त किसानो को कर्ज मुहैया करवाया जायेगा जो कि, इस प्रकार हैं- छोटे किसानो को 1.5 लाख रुपय औऱ सीमान्त किसानो को 3 लाख रुपयो का आर्थिक कर्ज दिया जायेगा वो भी सिर्फ 11 प्रतिशत ब्याज की दर पर,
  3. जो किसान भाई समय पर कर्ज का भुगतान करेगे उन्हें ब्याज पर 2 प्रतिशत की अतिरिक्त छूट दी जायेगी व
  4. इस योजना का सबसे आकर्षक और बड़ा लाभ जो हैं वो ये कि, इस योजना के तहत छोटे औऱ सीमान्त किसानो द्धारा लिये गये कर्ज का 3 प्रतिशत ही हमारे किसान भाईयो को देना होगा और बाकी 7 प्रतिशत का भुगतान राज्य सरकार द्धारा किया जायेगा आदि।

इन पात्रताओँ के तहत होगी चयन प्रक्रिया

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के लाभार्थियों का चयन करने के लिए जिन पात्रताओँ को तय किया गया है उनकी सूची इस प्रकार हैं-

  1. आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता को राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए,
  2. इस योजना के तहत केवल छोटे और सीमान्त किसानो को ही इस योजना का लाभ मिलेगा,
  3. योजना में एक खास प्रावधान हैं कि, जिन किसानो के पास 1 हेक्टेयर से भी कम भूमि हैं उन्हें भी इस योजना का लाभ दिया जायेगा,
  4. हमारे जो किसान इस योजना के तहत समय पर कर्ज का भुगतान करेगे उन्हें अलगी कर्ज के ब्याज पर अतिरिक्त 2 प्रतिशत की छूट दी जायेगी,
  5. 2 हेक्टेयर वाली हमारे किसान भाई भी इस योजना का पूरा लाभ ले सकते हैं इत्यादि।

उपरोक्त तय पात्रताओं के आधार पर इस योजना के लिए लाभार्थियो का चयन किया जायेगा।

Read: [आवेदन] किसान क्रेडिट कार्ड योजना 2020

इस प्रकार हैं आवेदन के लिए मांगी जाने वाली दस्तावेजो की सूची

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना में आवेदन के लिए जिन दस्तावेजो की मांग की जायेगी उन सभी दस्तावेजो की एक संतुलित सूची इस प्रकार हैं-

  1. इस योजना में आवेदन करने के लिए आवेदन के पास अपना पहचान पत्र होना चाहिए,
  2. आधार कार्ड के साथ-साथ निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए,
  3. आवेदनकर्ता के पास एक सक्रिय बैंक खाता होना चाहिए और ये खाता आवेदनकर्ता के आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए,
  4. आवेदक के पास एक सक्रिय मोबाइल नंबर होना चाहिए,
  5. आवेदक के पास अपनी फसल संबंधित दस्तावेज होना चाहिए,
  6. आवेदनकर्ता के पास भूमि से संबंधित सभी दस्तावेज होने चाहिए आदि।

उपरोक्त दस्तावेजो के आधार पर ही हमारे राजस्थान के किसान भाई इस योजना का सार्थक लाभ ले पायेंगे।

Read: प्रधानमंत्री धन लक्ष्मी योजना 2020 आवेदन

इन चरणो के तहत करना होगा आवेदन

हम अपने सभी पाठको और राजस्थान के सभी किसान भाईय़ो को इस योजना में आवेदन करने के प्रत्येक चरण की विस्तार से जानकारी प्रदान करेंगे ताकि उन्हें आवेदन की प्रक्रिया के दौरान कोई समस्या ना होग। आवेदन के सभी चरण इस प्रकार हैं-

  1. सबसे पहले हमारे किसान भाईय़ो को इस योजना में आवेदन करने के लिए इसकी आधिकारीक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक हम अपने किसान भाईयो की सुविधा के लिए उपलब्धा कर रहे हैं जो कि, इस प्रकार हैं – http://www.agriculture.rajasthan.gov.in/content/agriculture/hi.html,
  2. हमारे किसान भाईयो को इस लिंक पर क्लिक करना होगा,
  3. उसके बाद एक होम पेज पर ले जाया जायेगा,
  4. इस पेज पर आपको राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना में आवेदन करे का विकल्प मिलेगा,
  5. जिस पर आपको क्लिक करना होगा,
  6. इसके बाद जब आप आवेदन करें के लिंक पर क्लिक कर देगे तो आपको इस योजना में आवेदन करने के लिए एक आवेदन फॉर्म मिलेगा,
  7. इस आवेदन फॉर्म को आपको बेहद सावधानी से भरना होगा व सभी जानकारी सही-सही दर्ज करनी होगी जैसे कि- आवेदनकर्ता का नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, बैंक खाता, पैन कार्ड का नंबर, फसल विवरण के साथ-साथ भूमि का विवरण भी दर्ज करना होगा,
  8. आवेदन फॉर्म के साथ-साथ सभी मांगी जाने वाली जरुरी दस्तावेजो की एक-एक प्रति सलंग्न करना होगा,
  9. आवेदन फॉर्म को सही तरह से भरने के बाद आपको उसे सबमिट कर देना होगा और उसकी एक रसीद ले लेनी होगी,
  10. उपरोक्त चरणो को पूरा करने के बाद आपका आवेदन इस योजना के लिए सफलतापूर्वक हो जायेगा।

अन्त, हमने अपने किसान भाईय़ो को बताया कि, वे कैसे इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं औऱ इस योजना का लाभ ले सकते हैं औऱ कृषि के साथ-साथ किसान भाई अपना और अपने देश का भी विकास कर सकते हैं।

आपके सवाल औऱ हमारे जबाव

इस योजना से जुड़े कुछ सवाल हमें लगातार आपकी तरफ से मिलते रहे हैं जिनका हम इस प्रकार जबाव दे रहे हैं-

सवाल– इस योजना का लाभ किन राज्यो के किसानो को मिलेगा?

जबाव – इस योजना का लाभ केवल राजस्थान राज्य के किसानो को ही मिलेगा।

सवाल –  इस योजना का मौलिक उद्धेश्य क्या हैं ?

जबाव –  इस योजना का मौलिक उद्धेश्य हैं कृषक उपज में वृद्धि के साथ-साथ किसान के आय में वृद्धि करना।

सवाल – इस योजना के तहत किस प्रकार के किसानो को लाभ मिलेगा ?

जबाव –  इस योजना के तहत छोटे,सीमान्त औऱ बटाईदार किसानो को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जायेगा।

सवाल – इस योजना के तहत किन दस्तावेजो औ पात्रताओ को पूरा करना होगा ?

जबाव –  इस योजना के तहत हमारे सभी आवेदन करने वाले किसान भाईयो को योजना के अनुसार तय किये गये पात्रताओं औऱ दस्तावेजो को पूरा करना होगा।

सवाल –  योजना में कैसे आवेदन करना होगा?

जबाव – इस योजना में आवेदन के लिए हमारे किसान भाई ऑनलाइन माध्यम का सहारा ले सकते हैं और आवेदन करके इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

सवाल –  योजना के तहत मिलने वाली राशि की ब्याज दर क्या होगी?

जबाव –  योजना के तहत मिलने वाली राशि की ब्याज दर का हमारे किसान भाईय़ो को केवल 3 प्रतिशत ही देना होगा और बाकी के 7 प्रतिशत का भुगतान राज्य सरकार करेगी।

सवाल –  जो किसान समय पर कर्ज का भुगतान करेंगे उन्हें क्या लाभ मिलेगा ?

जबाव –  हमारे जो किसान भाई समय पर कर्ज का भुगतान करेंगे उन्हें अगले कर्ज पर 2 प्रतिशत के अतिरिक्त ब्याज से छूट मिलेगी।

सवाल –  योजना के तहत कितनी राशि मिलेगी कर्ज के तहत व किस ब्याज दर पर ?

जबाव  – योजना के तहत छोटे किसानो को 1.5 लाख रु और बड़े किसानो को 3 लाख रु का कर्ज दिया जायेगा वो भी सिर्फ 11 प्रतिशत के ब्याज दर पर जिसमें से 7 प्रतिशत ब्याज का भुगतान राज्य सरकार करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *