प्रधानमंत्री ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ – Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Registration

Garib Kalyan Rogar Abhiyan PM

Table of Contents

गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020

PM Garib Kalyan  Rogar Abhiyan Yojana 2020 | Pradhan Mantri Garib Kalyan Abhiyaan Yojana Online Pnjikaran/Registration | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन/ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन/पंजीकरण 

               20 जून, 2020 को ’’ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान ’’ के शुभ अवसर पर आज सुबह करीब 11 बजे राष्ट्र को सम्बोधित करते हुए किया इस योजना का उद्घाटन। हम आपके लिए उद्घाटन सत्र के कुछ बेहद महत्वपूर्ण बाते लेकर आये हैं जिनसे आपके सामने मोदी जी कि इस कल्याणकारी योजना की रुपरेखा स्पष्ट हो जायेगी।

PM गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना पर एक नजर

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान वो अभियान है जिसके तहत हमारे सभी कोरोना की मार झेल रहे हमारे सभई श्रमिको औऱ प्रवासी श्रमिको को रोजगार दिया जाये, उनका आर्थिक सशक्तिकरण करते हुए आर्थिक सुरक्षा प्रदान करके उनके औऱ उनके परिवार का सुचारु तरीके से पालन पोषण किया जाये।

Garib Kalyan Rogar Abhiyan 11

वीरो के बलिदान को दी प्राथमिकता

मोदी योजना के शुभारम्भ उद्घाटन की शुरुआत में ही किया अपने वीरो को अपने और अपने देश की तरफ से सम्मान का अर्पण जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • लद्दाख में वीरो के बिलदान को प्राथमिकता दिया

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान के शुभारम्भ अर्थात् 20 जून, 2020 के शुभ-अवसर पर मोदी ने अपनी बात की शुरुआत में दिया लद्दाख में शहीद हुए वीरो के बलिदान को दी प्राथमिकता।

अभियान का नाम PM Garib Kalyan Abhiyan 2020
इनके द्वारा घोषणा की गयी देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा
इनके द्वारा शुरू की जाएगी देश के PM Narendra Modi के द्वारा
लॉन्च की तारीक 20 June
लाभार्थी देश के प्रवासी मजदूर
उद्देश्य रोजगार के अवसर प्रदान करना
  • बिहार रेजीमेंट का पराक्रम दिखा लद्दाख में – मोदी

मोदी ने कहा कि, लद्दाख में हमारे जिन वीरो में पराक्रम औऱ शौर्य का परिचय दिया है वे बिहार रेजीमेंट के हैं जिसके लिए सभी बिहारीयो को गर्व होना चाहिए।

  • मोदी ने नमन किया वीरो के बलिदान को

मोदी मे अपना नमन अर्पित किया हैं अपने सभी लद्दाख में वीरो के बलिदान को।

25 कार्यों पर किया जाएगा पीएम गरीब कल्याण रोजगार अभियान को शुरू

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Registration

 

बिहार के खगडिया जिले से की योजना की शुरआत

बैलदोर जिले में तेलीहार पंचायत में रिमोट के किया गरीब कल्याण योजना का उद्घाटन। योजना की शुरुआत खगडिया जिले के बैलदौर प्रखंड में स्थित तेलीहार पंचायत से की योजना की शुरुआत औऱ किया उनका धन्यवाद।

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan

  1. मोदी ने सबकी तरफ से रिमोट से किया योजना का उद्घाटन

मोदी ने योजना का उद्घाटन रिमोट से करते हुए कहा कि, इसका उद्घाटन मैं नही कर रहा हूं बल्कि आप सब ही कर रहे हैं।

  1. मोदी ने की तेलीहार पंचायत के लोगो से सीधी बात

योजना के शुभारम्भ के शुभ अवसर पर हमारे सभी खगडिया जिले के बैलदोर प्रखंड में तेलीहार पंचायत के लोगो से सीधी बात जो कि, इस प्रकार हैं-

  • बिहार के खगडिया जिले के बैलदोर पंचायत के लोगो से की सीधी बात

इस योजना के शुभारम्भ के शुभ अवसर पर मोदी ने बिहार के खगडीया जिले के बैलदोर प्रखंड के तेलीहार पंचायत के लोगो से की सीघी बात और पूछे कोरोना को लेकर उनके अनुभव और घर वापसी का अनुभव और साथ ही रेलो में यात्रा कैसी रही इस पर भी मोदी ने पंचायत के लोगो से सीधी बात की।

  • सुनिला, जीविका दीदी से की सीधी बात की मोदी ने

मोदी ने बैलदोर प्रखंड के तेलीहार पंचायत की जीविका संचालक सुनिला जी से सीधी बात की मोदी में और उनसे इस योजना के बारे में उनका अनुभव पूछा।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan

  • पी.एम आवास योजना की लाभार्थी श्रीमती. रीता देवी से मोदी ने की सीधी बात

मोदी ने पूछा का कि, योजना का सीधा पैसा खाते में मिला ना, किसी ने घूस तो नहीं लिया और योजना की मदद से घऱ बढिया बनाना हैं ना आदि। पक्के घऱ से आपकी बेटी की शादी जल्दी और बेटे की शादी से बहु जल्दी आयेगी।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan 1

  1. कोरोना से कैसे करे अपनी सुरक्षा हमें गाव वालो से सीखना होगा

मोदी ने कहा कि, हमे कैसे कोरोना से अपनी सुरक्षा करनी हैं और कैसे निर्दैशो का पालन करना हैं ये हमें गाव वालो से सीखना चाहिए क्योंकि

  • यूरोप के सभी देशो को पछाडा ग्रामीण भारत की 80-85 करोड की जनता ने – मोदी

मोदी ने कहा कि, जिस प्रभावी तरीके से हमारे ग्रामीण भारत की 80 से 85 करोड की जनता ने कोरोना महामारी के संक्रमण को रोका हैं उससे उन्होने पूरे युरोप के सभी देशो को पछाड दिया हैं क्योंकि बडी-बड़ी महाशक्तियां जैसे कि- अमेरिका, रुस, ब्रिटेन औऱ फ्रान्स आदि ने कोरोना के आगे घुटने टेके लेकिन ग्रामीण भारत की 80-85 करोड की जनता ने कोरोना को अपने यहां पैर फैलाने का मौका भी नही दिया।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyan 3

  • सामाजिक दूरी के लिए गांव वालो से सीखना होगा

बिहार की आम जनता द्धारा जो कोरोना से सुरक्षा के लिए सामाजिक दूरी के सिद्धान्त को लागू किया था।  बिहार के लोगो द्धारा उसके बेहतर प्रदर्शन के लिए मोदी ने कहा कि, गांव वालो से सीखना होगा सामाजिक दूरी के सिद्धान्त का पालन।

  • गांवो ने सबक दिया हैं शहरो को – मोदी

कोरोना से सुरक्षा को लेकर जो सुरक्षा निर्देश जारी किये गये थे गाव वालो ने उनका खुब अच्छे से पालन किया हैं जिसकी वजह से शहर वालो को गांव वालो से सामाजिक दूरी, मास्क और अन्य सुरक्षा निर्देशो के पालन को सिखना चाहिए- मोदी ने कहा।

  • गांव वालो ने प्रभावी तरीके से कोरोना संक्रमण को – मोदी

कोरोना महामारी को देखते हुए गाव वालो में जिस तरह से अपने गावो में कोरोना के संक्रमण को आगे बढने से रोका है इसके लिए मोदी ने उनका धन्यवाद दिया हैं।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyan 2

  • गांव के लोगो से बात करके राहत और संतोष मिला

मोदी ने कहा कि, कोरोना की इस महामारी में, गाव वालो की जागरुकता साहस औऱ एहतियात बरतने के ढंग को जानकर और जैसे उन्होने इसके संक्रमण को रोका हैं इसलिए गाव के लोगो से बात करके राहत और संतोष की प्राप्ति हुई हैं।

  • गांव के लोगो के विश्वास और ताजगी को महसूस किया- मोदी

योजना के उद्घाटन के शुभ अवसर पर गावं के लोगो से बात करके उनकी साहस और मजबूत इच्छा-शक्ति को देख कर मोदी ने कहा कि, मैं आपके लोगो के विश्वास और ताजगी को महसूस कर सकता हूं औऱ कर रहा हूं।

  • ग्रामीण जागरुकता और स्वच्छता अभियान ने किया अह्म योगदान – मोदी

कोरोना को ग्रामीण भारत में फैलने से रोकने लिए मोदी ने कहा कि, ग्रामीण जागरुकता और स्वच्छता अभियान ने किया हैं कोरोना को रोकने में अह्म योगदान।

  • मैं, गांववासियो को प्रशंसा का हकदार घोषित करता हूं – मोदी

मोदी ने, कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए गावंवासियो के प्रयास को देखते हुए गांववासियो को प्रशंसा का हकदार घोषित किया हैं औऱ कहां कि, भले ही कोई आपकी जय-जयकार ना करे मैं तो खुले दिल से आपका सब का जय-जयकार करुगा।

  • पटना में कोरोना जांच मशीन से खुशी मिली- मोदी

मोदी ने कहा कि, मुझे पटना में कोरोना जांच मशीन के लगने से काफी खुशी मिली हैं जिससे की अब एक दिन में 1500 कोरोना जांच हो सकेगे, इससे मुझे काफी खुशी मिली हैं।

  1. श्रमयेव जयते – मोदी

इस कोरोना महामारी में जिस तरह से हमारे श्रमिको मे अपने श्रम का परिचय दिया हैं उसे देखते हुए मोदी ने उन्हें ’’ श्रमयेव जयते ’’ की उपाधि से नवाजा हैं और उन्होने कहा कि –

Pradhan Mantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

  • श्रमयेव जयते है आप लोग – मोदी

मोदी ने कहा कि, आप लोग श्रम के पुजारी हैं और श्रम आपकी गुलाम हैं इसलिए आप लोग श्रमयेव जयते हैं।

  • आज का दिन हैं ऐतिहासिक – मोदी

मोदी ने, आज के दिन को,  जब हमारे श्रमिको के सम्मान को नई मान्यता मिलने जा रही हैं के दिन को ऐतिहासिक दिन घोषित किया हैं। मोदी ने हमारे सभी श्रमिको के श्रम का सम्मान करते हुए कहा कि, हमारे श्रमिक भाई-बहन सहारे से नहीं बल्कि श्रम के सम्मान से जीते हैं।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan 2

  • श्रमिको व प्रवासी श्रमिको को समर्पित है योजना

मोदी ने कहा कि, हम इस योजना को अपने सभी श्रमिको व प्रवासी श्रमिको को समर्पित करते हैं क्योंकि ये योजना उन्हीं के कठिन परिश्रम से सफल होगी।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan 2.3

  • अब अपने गांवो को बढाईए आगे

मोदी ने कहा कि, हमारे श्रमिको ने आज तक शहरो को चमकाया हैं  और उनका भविष्य बनाया हैं लेकिन अब आपको अपने गांवो को भी आगे बढाना होगा क्योंकि अब आपके गांव की बारी हैं विकास की।

  1. इनसे मिली योजना की प्रेरणा और यहा से हुआ योजना का जन्म

मोदी ने सीधा प्रसारण करते हुए बताया कि –

  • श्रमिक साथियो से मिली हैं योजना की प्रेरणा

मोदी ने कहा  कि, मुझे इस योजना की मूल प्रेरणा हमारे अपने श्रमिक साथियो से ही, उनके परिश्रम से औऱ उनके अथक साहस से ही  मिली हैं।

  • क्वारंटिन सेंटर से जन्म हुआ इस योजना का

मोदी ने कहा कि, मुझे एक खबर मिली कि, उत्तर प्रदेश के एक क्वारंटिन सेन्टर जो कि, स्कूल था वहां हमारे श्रमिको ने अपने परिश्रम से उस स्कूल का ही काया-कल्प कर दिया और यही से इस योजना का जन्म हुआ।

  • 50 हजार करोड रुपयो की लागत से शुरु होगी ये योजना

मोदी ने कहा कि, हमारे श्रमिको को रोजगार मिले, उनका आर्थिक जरुरते पूरी हो और उनका औऱ उनके परिवार का सुचारु पालन-पोषण हो इसके लिए 50 हजार करोड रुपयो की लागत से किया जायेगा योजना का क्रियान्वयन।

  1. जन-धन खातो के महत्व को किया उजागर

मोदी ने अपने वक्तव्य में, उनकी सरकार के दौरान खुले जन-धन खातो के महत्व को उजागर करते हुए कहा कि –

  • जन-धन खाते नहीं होते तो क्या मिलता बैंक खातो में सीधा रुपया –मोदी

मोदी ने कहा कि, यदि हमने जन-धन खातो को नहीं शुरु किया होता, इन खातो को मोबाइल नंबर से नहीं जोडा होता और इन खातो को आधार कार्ड से नही जोडा होता तो ये कैसे संभव होता कि, सरकार के द्धारा दिया गया पैसा सीधा बैंक खाते मे जमा किया जाता।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Rojgar Yojana Abhiyan

  • 20 करोड जन-धन खातो में 10 हजार करोड रुपयो का सीधा हस्तांतरण

मोदी ने कहा कि, कोरोना की महामारी को देखते हुए हमने 20 करोड जन-धन खातो में सीधा 10 हजार करोड की राशि सीधा बैंक खातो में जमा की व 1000 हजार करोड रुपयो की राशि सीधा दिव्यांगो के खातो में जमा की।

  1. किसानो के आत्मनिर्भरता के महत्व को किया प्रदर्शित

मोदी ने अपने वक्तव्य के दौरान आत्मनिर्भर किसान के महत्व को किया प्रदर्शित औऱ कहा कि –

  • आत्मनिर्भर भारत के लिए जरुरी हैं आत्मनिर्भर किसान

मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान की सफलता के लिए कहा कि, आत्मनिर्भर भारत के लिए आत्मनिर्भर किसान की बहुत जरुरत हैं ताकि किसान हमारा और अपना विकास कर सकें।

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan 5

  • 1 लाख करोड रुपयो की व्यवस्था की गई है किसानो के लिए

हमारे सभी किसान भाई अपनी मर्जी से अपनी फसल बेच सकें इसके लिए इस योजना के तहत करीब 1 लाख करोड रुपयो की व्यवस्था की गई हैं ताकि हमारा किसान आत्मनिर्भर और आत्मसशक्त हो।

  1. योजना के तहत सम्पादित होने वाले अन्य कार्यो के बारे में कहा मोदी ने

योजना के शुभारम्भ के शुभ अवसर पर मोदी ने योजना के तहत अन्य कार्यो के बारे मे कहा जिनको किया जायेगा पूरा जैसे कि-

  • एक देश एक राशन कार्ड योजना की शुरुआत

इस योजना के  उद्घाटन समारोह में मोदी ने कहा कि, अब एक देश एक राशन कार्ड की शुरुआत होने जा रही हैं ताकि देश के सभी नागरिक पूरे भारत में कहीं भी राशन प्राप्त कर सकें।

  • उघोग समूहो का होगा निर्माण

हमारे सभी ग्रामीणवासियो को पैकिंग प्रोडक्ट उपलब्ध करवाने के लिए और उनकी फसल को सीधा पैकिंग करके उत्पाद बनाने वालो से जोडने के लिए उघोग समूह बनाये जायेगे।

  • योजना से मिलेगा जल-जीवन मिशन को प्रोत्साहन

मोदी ने कहा कि, इस योजना के तहत कई अन्य योजनाओ को बढावा मिलेगा जैसे कि- जल-जीवन मिशन योजना को इस योजना के तहत प्रोत्साहित किया जायेगा।

  • सड़क व पंचायत भवन का होगा निर्माण

योजना के तहत प्राथमिकता के तौर पर सड़को की मरम्मत की जायेगी, नये सड़को का निर्माण किया जायेगा और जिन इलाको में पंचायत भवन नही हैं वहा पर पंचायत भवन बनाये जायेगे।

  • योजना के तहत गांव वालो को मिलेगा सस्ता और तेज इन्टरनेट

                                                   मोदी ने कहा कि, योजना के तहत गांव वालो को सस्ता औऱ तेज इन्टरनेट मिलेगा जिससे उनका आधुनिकीकरण होगा।

  • गांव वालो ने पछाडा शहर वालो को इन्टरनेट के मामले में

गांव वालो ने, शहर वालो को इन्टरनेट की खपत के मामले में भी पछाड दिया हैं जिससे हमारे आधुनिक ग्रामीण भारत का निर्माण होगा।

  1. कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जरुर बरते सावधानी

मोदी ने अपने वक्तव्य के अन्तिम चरण में सभी देशवासियो से अपील की कि, वे कोरोना को हराने में और अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा करते हुए कोरोना को हराने में मदद करें और पालन करें।

सावधानी का पालन जरुर करें- मोदी की अन्तिम अपील

मोदी ने अपने उद्घाटन समारोह के अपने वक्तव्य के अन्तिम चरण में सभी देशवासियो से कुछ अपील की हैं जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • सामाजिक दूरी के सिद्धान्त का पालन जरुर करें,
  • 2 गज की दूरी जरुर बनाये रखें,
  • चेहरे को मास्क या गमच्छा से जरुर ढकें आदि।

उपरोक्त सावधानी बरतने की हिदायत देते हुए मोदी ने अपने वक्तव्य का समापन किया औऱ आशा जताई कि, इस योजना का लाभ भारत के हर श्रमिक को मिले और वे कोरोना को हराकर भारत को आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत आत्मनिर्भन बनाये।

भारत सरकार द्धारा संचालित नये अभियान की जिसका नाम हैं – गरीब कल्याण रोजगार अभियान। भारत सरकार द्धारा संचालित इस अभियान के तहत कोरोना के दुष्प्रभाव से पीडित हमारे सभी मजदूर भाई-बहनो को राहत पहुंचाना हैं औऱ इस अभियान के तहत उन्हें रोजगार प्रदान करना और उनकी घरेलू आर्थिक जरुरतो की पूर्ति करना हैं।

हम अपने इस लेख में आपको इस अभियान की पूरी जानकारी देंगे, इसके मूल लक्ष्यो के बारे में बतायेगे और इसके साथ-साथ इसके क्रियान्वयन को लेकर जारी ब्लू-प्रिंट से आपको परिचित करवायेगे ताकि हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहन इस अभियान का लाभ ले सकें।

अभियान और प्रवासी मजदूर – एक नजर

हम अपने सभी पाठको और प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को बताना चाहते हैं कि, 20 जून, 2020 को भारत के प्रधानमंत्री श्री, मोदी द्धारा जिस अभियान की औपचारीक शुरुआत की जायेगी उसका नाम हैं, ’’ गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Pradhan Mantri Garib Kalyan Abhiyan Yojana)  ’’।

इस अभियान के तहत हमारे सभी कोरोना से दुष्प्रभावित अर्थात् प्रवासी मजदूर भाईयो और बहनो को रोजगार प्रदान किया जायेगा ताकि उनकी और उनके परिवार की पैसो को लेकर सभी जरुरते पूरी की जा सकें और उन्हें इस संकट के समय में सकारात्मक बनाते हुए कोरोना को हराने के लिए तैयार किया जा सकें।

भारत  सरकार ने साफ किया हैं कि, इस अभियान के तहत कुल 6 राज्यो के, 116 जिलो में 125 दिनो के रोजगार कार्यक्रम का संचालन ’’ युद्ध स्तर ’’ पर किया जायेगा ताकि इस अभियान से हर प्रवासी मजदूर भाई-बहन को रोजगार दिया जा सकें औऱ इस अभियान के तहत उनका आर्थिक सशक्तिकरण किया जा सकें।

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan 2

अभियान के मूल लक्ष्य

भारत सरकार की इस प्रवासी मजदूर कल्याण अभियान के बेहद व्यापक और साधारण लक्ष्य हैं वो ये कि, इसके तहत हमारी भारत सरकार अपने प्रवासी मजदूर भाई-बहनो को 125 दिनो का  रोजगार प्रदान करके उनकी आर्थिक स्थिति को सुधारना चाहती हैं ताकि भारत के ये सबसे दुष्प्रभावित लोग अपनी आजीविका को प्राप्त कर कोरोना को हराने में अपनी, अपने परिवार की और अन्त में भारत की मदद कर सकें।

Read: मजदूर भत्ता योजना उत्तर प्रदेश 2020 

अभियान के तहत मिलेगा 116 जिलो में 125 दिनो का रोजगार

इस अभियान की सबसे आकर्षक पक्ष की बात करें तो हम आपको बताना चाहते है कि, इस अभियान के तहत कुल भारत के 6 राज्यो में, 116 जिलो में, हमारे सभी प्रवासी मजदूरो को 125 दिनो का रोजगार प्रदान किया जायेगा ताकि वे रोजगार करके अपना अपने परिवार की सभी जरुरत और खासकर आर्थिक जरुरतो तो पूरा कर सकें।

भारत सरकार की कई मंत्रालयो का मिश्रण हैं ये अभियान

अभी इस योजना की आधिकारीक शुरुआत तो नहीं हुई हैं लेकिन सुनने में आ रहा है कि, ये अभियान लगभग भारत सरकार की 12 मंत्रालयो का मिश्रण हैं अर्थात् इन्होने मिलकर इसकी रुपरेखा को तैयार किया हैं ताकि हमारे सभी प्रवासी मजदरो को इस अभियान का लाभ पहुंचाया जा सकें और उनकी आर्थिक स्थिति में आशाजनक सुधार हो सकें।

Garib Kalyan Rogar Abhiyan

अभियान के सफल संचालन के लिए 50 हजार करोड रुपयो के बजट

भारत सरकार की पूरी कोशिश हैं कि, कोरोना से दुष्प्रभावित अपने प्रवासी मजदरो को 125 दिनो का रोजगार प्रदान करके उनकी आर्थिक स्थिति को सुधारा जा सकें और इस लक्ष्य को लेकर चली इस अभियान के सफल संचालन के लिए कुल 50 हजार करोड़ रुपयो की बड़ी राशि को मिली हैं सरकरा की हरी झंण्डी।

इस अभियाने के तहत हमारे सभी प्रवासी मजदूर भाई-बहन को आर्थिक मदद पहुंचाई जायेगी ताकि इनकी पटरी से ऊतर चुकी आर्थिक रेल को फिर से पटरी पर लाया जा सकें और उनका आर्थिक  व सामाजिक जीवन को संतुलन प्रदान किया जा सकें।

 

Read: PMSYM’ प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना 2020

25,000 प्रवासी मजदूरो का होगा कल्याण

ऐसा बताया जा रहा हैं कि, कोरोना के प्रकोप के कारण अपने काम-धंधो को छोड़ कर कुल 67 लाख प्रवासी मजदूरो की वापसी हुई हैं जिनकी आर्थिक स्थिति को सुधारना भारत सरकार की जिम्मेदारी हैं औऱ सरकार ने अपनी इस जिम्मेदारी को निभाने के लिए कदम भी उठा लिया हैं जिसकी आधिकारीक शुरआत 20 जून, 2020 को प्रधानमंत्री के तहत किया जायेगा। इसके तहत भी शुरुआत स्तर पर केवल 25,000 मजदूरो को ही रोजगार प्रदान किया जायेगा ताकि इन पर इस अभियान के प्रयोग को परखा जा सकें और इसके बाद इस अभियान के तहत सभी को शामिल कर प्रवासी मजदूरो की आर्थिक स्थिति में सुधार किया जायेगा।

गरीब कल्याण रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

इस अभियान की आधिकारीक शुरुआत से पहले ही इस अभियान को काफी लोकप्रियता मिलनी शुरु हो गई हैं जिसके तहत भारी संख्या में हमारे प्रवासी मजदूर आवेदन करने के लिए इधर से उधर भटक रहे हैं तो हम उन्हें बताना चाहते है कि, इस अभियान के तहत अभी आवेदन प्रक्रिया की शुरुआत नहीं की गई हैं लेकिन जल्द ही शुरु की जायेगी जिसकी जानकारी हम आपको सबसे पहले बताने की पूरी कोशिश करेगे ताकि आप इस अभियान का लाभ लेकर अपनी आर्थिक तंगी को दूर कर सकें और अपने साथ-साथ अपने परिवार की भी सभी आर्थिक जरुरतो को पूरा कर सकें औऱ संकट की इस घ़डी में उनकी देखभाल कर सकें।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan FAQ’s

अभियान से उठे आपके Q. और हमारे Ans.

इस अभियान से संबंधित कई Q. उठ रहे हैं जिनका हमने इस प्रकार से Ans. दिया है जो कि, इस प्रकार  हैं-

Q: इस अभियान के तहत कितने दिनो का रोजगार किसे मिलेगा ?

Ans. – इस अभियान के तहत चयनित राज्य के प्रवासी मजदूरो को कुल 125 दिनो का रोजगार दिया जायेगा।

Q: इस अभियान के हमारे प्रवासी मजदूरो पर क्या प्रभाव होगा ?

Ans. – इस अभियान से हमारे प्रवासी मजदूरो को 125 दिनो का रोजगार प्रदान किया जायेगा ताकि उनकी आर्थिक जरुरते पूरी हो सकें।

Q; अभियान की शुरुआत कब से की जायेगी ?

Ans. – अभियान की शुरुआत 20, जून, 2020 को प्रधानमंत्री श्री. नरेन्द्र मोदी द्धारा की जायेगी।

Q: – अभी आवेदन कर सकते हैं इस अभियान में ?

Ans. – नहीं। अभी अभायान में आवेदन की प्रक्रिया शुरु नहीं हुई हैं।

Q:- 50 हजार करोड का  बजट किसके लिए जारी किया गया हैं ?

Ans. – 50 हजार करोड का बजट भारत सरकार द्धारा शुरु की जा रही योजना अर्थात् गरीब कल्याण रोजगार अभियान  के लिए जारी की गई हैं ताकि इस योजना का सफल संचालन किया जा सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *